देवी की पूजा । जंगली भेड़िया । Short Story in Hindi

0
Short Story in Hindi
Short Story in Hindi

Short Story in Hindi

1.देवी की पूजा

एक समय की बात है।एक भक्त ने पूजा करने के लिए देवी की एक मूर्ति बनाई। इस मूर्ति को सजाने-सँवारने और पूजा-अर्चना व भेंट आदि के रूप में वह हर रोज काफी पैसा खर्च करता था। देवी को प्रसन्न करने के लिए वह उसके लिए सोने-चांदी के जेवर बनवाने के अलावा, वह महंगे दामों पर जानवर खरीदकर उनकी बलि भी चढ़ाता था। “Short Story in Hindi

भक्त की ऐसी श्रद्धा देखकर एक दिन देवी ने उसे साक्षात दर्शन दिए। देवी बोलीं, “बत्स्य! में तुम्हारे भक्ति भाव से प्रसन हूँ। मैं जानती हूँ कि तुम बहुत धनी हो। परंतु इस तरह प्रतिदिन इतने पैसे खर्च करोगे तो एक दिन तुम्हारे पास कुछ नहीं बचेगा।

इसलिए मैं तुम्हें समझाने आई हूँ कि मैं भक्त की सच्ची भक्ति से प्रसन्न होती हूं। आज से तुम मुझे महंगी भेटैं आदि देना बंद करो और अपनी मेहनत की कमाई को संभालकर रखो। यह आड़े वक्त में तुम्हारे काम आएगी।’ यह कहकर देवी अंतर्धान हो गई।

शिक्षा : हमें जीवन में मितव्यिता का गुण अपनाना चाहिए।

2.जंगली भेड़िया

Short Story in Hindi

एक दिन एक भेडिया एक पेड़ के मजबृत तने पर अपने दाँत रगड़ रहा था। तभी वहाँ एक लोमड़ी आई और उससे पूछने लगी, ” दोस्त ! यह क्या कर रहे हो।” “में पेड़ के तने पर रगड़कर अपने दाँत तेज कर रहा हूँ, ताकि दुश्मनों का मुकाबला कर सकूँ।” भेडिए ने उत्तर दिया।

लोमड़ी हँसते हुए बोली, ” तुम बेवजह ही अपना समय बरबाद कर रहे हो क्योंकि इस जंगल में हमें कोई खतरा नहीं है। हाँ, बाहर से आने वाले शिकारी जरूर हमारे दुश्मन हैं, पर अब तो वे भी काफी समय से यहाँ नहीं आए हैं।”

भेड़िए ने लोमड़ी की बात पर कोई ध्यान नहीं दिया और चुपचाप अपना काम करता रहा। तभी घनी झाडियों के पीछे से दो शिकारी निकले । वे अपना धनुप बाण संभाल ही रहे थे कि भेडिए ने उन पर हमला कर दिया। अपने पैने दाँतों से उसने दोनों शिकारियों को बुरी तरह घायल कर दिया। शिकारी बड़ी मुश्किल से अपनी जान बचाकर भागे।

शिक्षा : दुश्मन से हमेशा सावधान रहना चाहिए।

जरूर पढ़े:-

1.कछुआ और हंस । Panchatantra Story In Hindi

2.सियार की हिम्मत । Animal Story in Hindi

3.पिता की परेशानी । बच्चों की सरारत । Short Stories in Hindi

4.भेड़िया और बच्चा । हिरण का अंत । Hindi Moral Stories

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here